ITR क्या है? जानिए ITR भरने के 10 फायदे | Income Tax Return

  • Post author:
  • Post last modified:August 14, 2021

आज हम बात करने वाले है ITR यानि की Income Tax Return के बारे में। Income Tax Return क्या होता है, क्यों भरना जरूरी है, किसे किसे भरना चाहिए, ITR भरने के क्या-क्या फायदे होते है? इन सभी के बारे में आज हम समझने वाले है। 

सबसे पहले ITR का long form Income Tax Return होता है और मतलब की जब आपको specific income होती है तो आपको उसका tax जो है वो सरकार को देना होता हो। 

Income Tax Return भरने के क्या फायदे है?

Income Tax Return भरने 10 फायदे है जो हम आगे देखने वाले है 

Claiming Deduction 

ITR department हमें जो income देता है उसे claim करने के लिए हमें Income Tax Return भरना जरूरी होता है। अगर कोई salaried है और अगर उसे Life Insurance Corporation (LIC) Policy ली है और अगर उसे वो claim करना है या Health Insurance claim करना है या Home Loan का जो interest होता है वो claim करना है और वही जो दूसरे भी deductions है ITR के वो अगर उसे claim करने है तो उसे Income Tax Return भरना होगा। 

Business Return में भी same ही होता है जैसे की अगर किसी की income 5 लाख को क्रॉस नहीं कर रही है तो उसे tax देने की जरुरत नहीं है। क्योकि under section 87a हमें 12500 की rebate मिलती है और अगर हमें ये rebate लेनी है तो हमें ITR file करना पड़ेगा। 

Set Of Losses or Carry Forward Losses 

Set Of Losses या Carry Forward Losses क्या होता है? समझ लो की हमें पिछले साल कुछ loss हुआ अब वो loss कैसे भी हो सकता है जैसे हमने घर बेच दिया या Mutual Fund में invest किया वह हमें loss हो गया या Share Market में कही invest किया वह हमें loss हो गया, और अगर हमें इन losses को carry forward करना है तो आपको ITR भरना पड़ेगा। 

समझ लो की आपको 2019-20 में loss हुआ और 2020-21 में profit हुआ लेकिन यहाँ अगर आपको 2019-20 का loss carry forward करना है तो आपको पहले 2019-20 का return भरना पड़ेगा। अगर आपने 2019-20 का return file किया हुआ है तो 2020-21 में आप उस loss को carry forward कर सकते है और अभी का जो आपका profit है उसे आप उस loss से माइनस कर सकते है।

TDS Refund 

जो Government Employees है या Private Employees है जिनकी Monthly Salary 50,000 को क्रॉस कर रही है या जिनकी total income ITR payable है, ऐसी condition में जो कंपनी होती है वो आपको form-16 देती है और आपसे सभी चीजे पूछी जाती है। जैसे की आपका ATC में कितना deduction है, आपके बच्चो की Tuition Fees है वो कितनी है, आप अपने House का Rent क्यों दे रहे हो और भी कुछ चीजे होती है जो आपसे पूछी जाती है। 

इतना जानने के बाद ये calculation किया जाता है की आपका income कितना है, और उसमे से Income Tax payable कितना निकल रहा है। इसके आधार पर हर महीने Tax calculate कर आपका TDS काटा जाता है। In Short जब आपको आपकी salary मिलेगी तो उस salary में से कुछ income काट ली जाएगी जिसे TDS कहा जाता है। 

अगर आपका TDS कट हुआ है और अगर आपको उसे वापस चाहिए तो इसके लिए आपको Income Tax Return file करना होगा। आप बता सकते है की मेरा HRA  इतना कट हुआ है या ATC मैंने इतना pay किया है ये सब बताने के बाद आपका जो TDS कट हुआ है उसके मिलने के chances ज्यादा होते है। 

अगर बात करे Business की जैसे कोई Contractor है उसका TDS कट हुआ है और जब वो अपना बैलेंसशीट और profit and loss final करेगा, उसके आधार पर अगर उसका TDS ज्यादा कट हुआ है तो वो refund ले सकता है। ये refund लेने के लिए उसे Income Tax Return (ITR) file करना होगा। 

Loan 

कोई भी Loan हो चाहे वो Home Loan हो, Car Loan हो, Business Loan हो या Mortgage Loan हो अगर आपको किसी भी प्रकार का loan चाहिए तो bank आपको Income Tax Return मांगती है और वो भी 3 साल का। क्यों? क्योंकि bank ये जानना चाहती है की आपका पिछले 3 साल से Average कितना income है। 

अगर आपको 10 लाख का loan चाहिए और उस loan का EMI 20 हजार है हर महीने, तो क्या आप इतना कमाते है हर महीने की आप उस EMI को pay कर सकेंगे। Bank को अगर ये देखना है तो bank आपसे ITR मांगेगी और उसके बेस पर ये तय किया जाएगा की आपको वो loan देना भी चाहिए या नहीं। अगर आपकी income ज्यादा है तो bank आपको आसानी से loan दे देगी, लेकिन अगर आपकी income ज्यादा नहीं है तो bank उस पर काफी सोच समझ कर कोई निर्णय लेगी। 

इसलिए Income Tax Return बोहोत जरुरी होता है अगर आपको कोई loan लेना है तो। अभी आपको जरुरत नहीं है लेकिन future में हो सकती है अगर आप future में loan लेना चाहते है तो आपको अभी से ITR भरना शुरू करना चाहिए 

Income Proof 

अगर आप salaried है तो आपको पता ही होता है की आपकी income कितनी है, लेकिन अगर आपका कोई Business है तो आप ये कैसे पता कर सकते है की आप कितना कमा रहे ही? ऐसे में रोले आता है Income Tax Return का, अगर आपके पास ITR है तो आप दिखा उसे वो दिखा सकते हो की आपकी income कितनी है जिसे भी आपको अपनी income proof करनी है। 

आप ITR as a proof दे सकते हो की मैंने पिछले साल इतना कमाया था और इस साल भी इतना ही कमाऊंगा। 

Address Proof 

आपको पता तो होगा की Pan Card वही का बनता है जहा आप रहते हो और अगर कोई इंसान State से बाहर जा कर कमा रहा है जैसे अगर कोई uttarakhand का इंसान maharashtra में कमा रहा है। ऐसे में जब वो ITR भरेगा तो उसमे ये लिखा होगा की वो रहने वाला कहा का है, वो कमा कहा रहा है, उसका GST Number ये है। तो Address Proof के लिए भी Income Tax Return फायदेमंद हो सकता है। 

Visa 

जब भी आप Visa के लिए apply करते है तो आपको ITR की मांग की जाती है, visa के लिए Income Tax Return compulsory होता है। 

High Insurance Policy 

समझ लो की आपको 50 लाख से ऊपर है Health Insurance लेना है तो उस condition में insurance कंपनी वो आपसे Income Tax Return मांगती है। क्यों? क्योंकि Insurance Company ये देखना चाहती है की इस 50 लाख का premium आप दे सकते है या नहीं। आपका खर्च कितना है, income कितनी है ये सब calculate कर वो company तय करती है की आपको वो policy दी जा सकती है या नहीं। 

Government Tender 

अगर आप किसी Government Tender के लिए apply करना चाहते है तो आपसे वह ITR compulsory लिया जाएगा, अगर आपको शुरुआत में नहीं माँगा है तो आने वाले समय में कभी भी वो उसकी मांग कर सकते है। 

Benefit In Penalty

अगर आपकी income अभी 2.5 लाख नहीं है लेकिन आगे चल कर वो increase हो जाती है और आप return नहीं भरते है। वही अगर आपको अभी कोई Loan लेना है लेकिन आपके पास 3 साल का ITR नहीं है ऐसे में आप क्या करोगे? आपको तो loan मिलेगा नहीं। लेकिन आप कहो की मैं पिछले 2 साल की Return भरने के लिए तैयार हूँ, ऐसे में अगर आपको पिछले सालो की Return आज भरनी है तो आपको Penalty लगेगी। 

कितनी? अगर आपकी income 5 लाख तक ही है तो आपको 1000 रूपए Penalty लगेगी और अगर आपकी income 5 लाख को क्रॉस करती है तो आपको 10,000 रूपए Penalty देनी होगी। साथ ही आपका जो Tax Payable Amount है उसका आपको 1% interest भी देना होगा। ये सब करने की जरुरत नहीं होगी अगर आप ITR पहले ही file कराते है तो। 

Income Tax Return (ITR) कौन भर सकता है और कौन नहीं?

आपकी income चाहे कितनी भी कम क्यों न हो या कितनी भी ज्यादा हो आप Income Tax Return भर सकते है। अगर आपकी income 2.5 लाख से कम है और अगर आप ITR नहीं भरते है तो आपको कोई नुकसान नहीं होगा लेकिन अगर आप भरते है तो आपको उसका फायदा जरूर मिलेगा जिसे हम ऊपर देख चुके है। वही अगर आपकी income 2.5 लाख से ज्यादा है तो आपका Income Tax Return भरना compulsory होता है। 

Income Tax Slabs और Rates 2021 

Total IncomeTax Regime (without deductions and exemptions
Up to 2.5 lakh No need or Nill
2.5lakh + to 5 lakh 5%
5 lakh to 7 lakh 10%
7 lakh to 10 lakh 15%
10 lakh to 12.5 lakh 20%
12.5 lakh to 15 lakh25%
Above 15 lakh30%

Enjoyed the post! Leave a Reply...