Machine Learning Engineer kaise bane? in Hindi

  • Post author:
  • Post last modified:October 25, 2021

Machine Learning की बात करें तो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का यह एक एप्लीकेशन है, जो आज मोस्ट powerful technologies में से एक है। Machine Learning बेस मशीने हिस्टोरिकल डाटा सेट के जरिए patterns identify और analyse करने में हेल्प करती है। उसी डाटा के बेस पर यह सिस्टम्स बिना किसी ह्यूमन सुपरविजन के classification और decision लेना सीखते हैं।

जैसे हम इंसान अपने experience से सीखते है और उनसे फ्यूचर के लिए बेहतर और इंप्रूव्ड डिसीजन लेते हैं। बिल्कुल वैसे ही मशीन लर्निंग तकनीक कंप्यूटर सिस्टम्स को ट्रेन करती है। ताकि पहले से मौजूद डाटा से नॉलेज ली जा सके और फ्यूचर में बेहतर परफॉर्म किया जा सके। आज के टाइम को मशीन लर्निंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का डिजिटल दौर कहा जा सकता है। जहां पर हर जगह आपको इनका इस्तेमाल दिखाई देगा।

आगे भी टेक्नोलॉजी एडवांसमेंट और इकोनॉमिक ग्रोथ के साथ फ्यूचर में आर्टिफिशियल devices पूरी दुनिया में नजर आने वाले है। 2030 के खत्म होते-होते आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर 2.3 million पोजीशन तक बढ़ोतरी हो सकती है। मतलब इस फील्ड में मिलने वाले जॉब ऑप्शन और करियर opportunities फ्यूचर में काफी तेजी से बढ़ने वाले हैं।

ऐसे में अगर आप Machine Learning Engineer बनने का इरादा रखे तो यह शानदार करियर ऑप्शन बन सकता है। इसलिए आज हम जानने वाले हैं कि Machine Learning Engineer बनने के लिए आपको क्या करना होगा? तो चलिए सबसे पहले देखते हैं कि मशीन लर्निंग इंजीनियर कौन होते हैं।

Machine Learning Engineers कौन होते है?

Machine Learning Engineer ऐसे programmer होते हैं जो ऐसे सिस्टम और मशीन को बनाते हैं जिनमें सीखने की एबिलिटी होती है। यह मशीन अपने experience से जो भी सीखा है उसे इस्तेमाल कर अपने काम करने में improvements भी ला सकते है।

Machine Learning Engineer ऐसे Codes, Programs और Patterns बनाते है जो मशीन को किसी particular situation में जरूरी action लेने की permission देते है।

Machine Learning Engineer की Responsibilities क्या होती है?

  • Computer Science के फंडामेंटल एल्गोरिदम, डाटा स्ट्रक्चर्स और कंप्यूटर आर्किटेक्चर का यूज करना।
  • कैलकुलेशंस और कंप्यूटेशन के लिए मैथमेटिकल स्किल्स का यूज करना।
  • प्रोग्रामिंग पर based एल्गोरिथम के साथ काम करना।
  • प्रोजेक्ट रिजल्ट को तैयार करना, डाटा के साथ collaborate कर बोहोत से डाटा मॉडल पाइपलाइन को डेवलप करना।
  • Code produce करने के लिए डाटा पाइपलाइन और infrastructure को मैनेज करना। 
  • Different statistical मॉडल और processes के बेस पर एल्गोरिथम को बनाना।
  • डाटा इवेल्यूएशन और डाटा मॉडलिंग स्ट्रैटेजिस का यूज करके पैटर्न को आईडेंटिफाई करना।
  • रेलीवेंट मशीन लर्निंग लाइब्रेरी और एल्गोरिथम को अप्लाई करना।
  • स्ट्रक्चर्ड और अनस्ट्रक्चर्ड डाटा के लार्ज और कॉन्प्लेक्स सेट्स को एनालाइज करना।
  • ऑर्गेनाइजेशन के इंफ्रास्ट्रक्चर को इंप्रूव करने के लिए रिसर्च करना और लेटेस्ट तकनीक को इंप्लीमेंट करना।

इतनी सारी responsibility को पूरी करने वाला मशीन लर्निंग इंजीनियर बन सकता है।

Machine Learning Engineers को किन चीजों की नॉलेज होनी चाहिए?

Machine Learning Engineer को बेसिक programming languages जैसे C++, Python, Java और R जैसी Languages आनी चाहिए।

इसी के साथ,

  • Probability
  • Statistical concepts
  • Distributed computing की बेसिक नॉलेज होना चाहिए।
  • कम से कम एक यूनिक tool में work experience होना चाहिए।
  • अप्लाइड मैथमेटिक्स
  • एल्गोरिथम मॉडल्स
  • Hadoop के साथ इसके application

इन सभी की नॉलेज होना जरूरी होता है।

मशीन लर्निंग में आपके लिए बोहोत सी जॉब अपॉर्चुनिटी अवेलेबल है। क्योंकि पूरी दुनिया की ऑर्गेनाइजेशन को टेक्नोलॉजी में एक कदम आगे बढ़ने के लिए ऐसे एक्सपोर्ट की जरूरत है। जो अपनी फील्ड में एक्स्ट्राऑर्डिनरी हो और अगर आप अपने फील्ड में एक्सपोर्ट होंगे तो आपको लीडिंग ऑर्गेनाइजेशन से भी ऑफर आ सकते हैं।

इसलिए जो भी कीजिए उसके एक्सपोर्ट बनने की कोशिश जरूर करें। मशीन लर्निंग की popularity ने इसे एक पॉपुलर कोर्स भी बना दिया है। इसलिए बहुत से इंस्टीट्यूशन यह कोर्सेज ऑफर करने लगे हैं। इंडिया के मोस्ट रेपुटेड इंस्टीट्यूट जैसे की  IIT यानी कि इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, IIM यानी कि इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट और NIT यानी नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी भी मशीन लर्निंग कोर्स ऑफर करते हैं।

खास बात यह है कि यह कोर्स केवल टेक्निकल और साइंटिफिक इंस्टिट्यूट और यूनिवर्सिटी तक ही सीमित नहीं है, बल्कि बहुत से एजुकेशनल इंस्टीट्यूट से भी यह कोर्स मिल जाएगा। आप चाहे तो मशीन लर्निंग में ऑनलाइन कोर्स भी कर सकते हैं और समर प्रोग्राम भी ज्वाइन कर सकते हैं। यह कोर्स ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रैजुएट लेवल पर तो कराया ही जाता है साथ में कई तरह के डिप्लोमा और सर्टिफिकेट लेवल कोर्सेज भी किए जा सकते हैं।

आप चाहे तो मशीन लर्निंग में स्पेशलाइजेशन करके इंजीनियरिंग की डिग्री ले सकते हैं। जैसे बीटेक एमटेक और एमएससी इन मशीन लर्निंग। मशीन लर्निंग के अंडर ग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन के लिए जरूरी है कि आपने ट्वेल्थ क्लास साइंस स्ट्रीम से पास की हो। बाकी क्राइटेरिया कॉलेज और इंस्टिट्यूट पर डिपेंड करेंगे। 

अगर आप मशीन लर्निंग में पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स करना चाहे तो आपके पास आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रिलेटेड कोर्सेज में बैचलर डिग्री होना जरूरी है। इसके लिए गेट जैसे एंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट किए जाते हैं। अब आपको इंडिया के कुछ बेहतरीन कॉलेज के नाम बताते हैं जहां से आप मशीन लर्निंग में कोर्स कर सकते हैं

Machine Learning Engineer कोर्स कौनसे कॉलेज से करे?

  • MISB Bocconi Mumbai, S P Jain School of Global Management Pune.
  • Narsee Monkee Institute of Management Studies Mumbai.
  • Great Lakes Institute of Management Chennai/Gurgaon/Bangluru.
  • Indian Institute of Technology (IIT) Kanpur.
  • Indian School of Business (ISB) Hyderabad.
  • Indian Institute of Management Bangluru.
  • Chandigarh University (CU) Chandigarh.
  • Lovely Professional University (LPU) Panjab.
  • Institute of Financial and International Management (IFIM) Bangluru.

Machine Learning में जॉब कौनसी होती है?

  • मशीन लर्निंग इंजीनियर
  • लीड मशीन लर्निंग इंजीनियर
  • रिसर्च साइंटिस्ट
  • डाटा साइंटिस्ट
  • AI इंजीनियर
  • AI और Deep लर्निंग Researcher
  • मशीन लर्निंग एक्सपर्ट
  • मशीन लर्निंग साइंटिस्ट
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • सीनियर सॉफ्टवेयर इंजीनियर

Machine Learning Engineer को हायर करने वाली कुछ टॉप कंपनियां

  • Google
  • Amazon
  • Apple
  • Dropbox
  • Deloitte
  • McKinsey
  • Facebook
  • Pinterest.

Machine Learning Engineer की सैलरी कितनी है इंडिया में?

आपको बता दे की Machine Learning Engineer की एवरेज सैलरी 8 लाख रुपए सालाना हो सकती है। यह सैलरी आपके experience, skills और आप कौनसे कंपनी में काम करते है इस पर based हो सकती है।

अगर आप experienced है और अच्छी कंपनी के लिए काम करते है तो यह सैलरी 15 से 20 लाख रुपए सालाना तक हो सकती है।

उम्मीद करते है आपको आपके सवाल का जवाब मिल गया होगा। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमे कॉमेंट कर जरूर बताए।

Enjoyed the post! Leave a Reply...

This Post Has 2 Comments

  1. Pradip

    I did B.Sc in PCM . My age is around 50 years .Can I eligible to do Machine Learning Course ?