2050 तक कौन – कौनसे Satellite को अंतरिक्ष में भेजा जाएगा?

  • Post author:
  • Post last modified:September 4, 2021

भविष्य एक ऐसा शब्द जिसकी कल्पना हर कोई करता है। हमेशा हमारे दिमाग में ये बाते चलती ही रहती है की आने वाला भविष्य कैसा होगा? इंसानी सभ्यता आने वाले समय में क्या-क्या टेक्नोलॉजी डेवलप करेगी? ऐसे कई सवाल है हमारे दिमाग में आते रहते है। तो चलो उसी पर हम बात करते है। के आने वाला समय कैसा होगा और क्या-क्या बदलाव होंगे हमारे ब्रह्मांड में और हमारे जीवन में? यानी साल 2050 तक हमारा ब्रह्मांड कैसा होगा?

2021 में launch होने वाले Satellite

इस दिन “JAMES WEBB SPACE TELESCOPE” को अंतरिक्ष में भेजने की तैयारी चल रही है। ये टेलीस्कोप स्पेस हिस्ट्री में अंतरिक्ष में भेजा जाने वाला अब तक का सबसे बड़ा टेलीस्कोप होगा। इसकी मदद से साइंटिस्ट हमारे गैलेक्सी के अनदेखे हिस्सों को explore करेंगे। पूरी दुनिया इसके लाँच के लिए बेसब्री से इंतजार कर रही है। ताकि हम अपनी गैलेक्सी के अंतिम छोर की सिमा को पार कर उससे भी आगे देख पाने में सक्षम हो। 

2022 में launch होने वाले Satellite

इस दिन हमारे देश की शान इसरो स्पेस एजेंसी अपने सबसे दमदार मिशन गगणयन को अंजाम देने के काम में जुटा हुवा है। वैसे ये गगणयन मिशन एक टेस्टिंग मिशन है। इसमें किसी भी इंसान को स्पेस में भेजा नहीं जायेगा। 

साल 2022, इस साल दुनिया के कुछ बेहद ही स्पेशल मिशन को अंजाम दिया जायेगा। जिसमे सबसे पहले आता है “JUICE MISSION” इसे जून 2022 को लाँच किया जायेगा। इस मिशन के जरिये जुपिटर के मून को काफी नज़दीक से रिसर्च किया जायेगा। इसके बाद आता है “MARS ORBITAL MISSION 2” वो दिन तो शायद हर हिंदुस्तानी को याद होगा जिसमे पहले ही प्रयास में इसरो के साइंटिस्ट मार्स पे पोहचने में कामयाब हुए थे। इसी के बाद पूरी दुनिया इसरो की काबिलियत जान चुकी है।

यह भी पढ़े: भारत के इन बिज़नेस मैन के बच्चे नहीं किसी से कम

क्योंकि इससे पहले दुनिया का कोई भी देश अपनी पहली ही कोशिश में मार्स पर पोहचने में कामयाब नहीं हुवा था। इसी चीज को ध्यान में रखते हुए इसरो मार्स ऑर्बिटल मिशन 2 को लाँच करने के इरादे पर आ चुका है। जिसे साल 2022 में लाँच किया जायेगा। अगला मिशन है “GAGANYAN2” इस मिशन में इसरो इंसानों को अंतरिक्ष में भेजेगा।

2023 में launch होने वाले Satellite

इस साल इसरो अपना अगला मिशन “SHUKRAYAAN 1” को अंजाम देगा। हमें पूरा यक़ीन है इसरो इस मिशन को भी अपने पहले एटेम्पट में ही पूरा कर पायेगा। इस मिशन के जरिये हम शुक्र के वातावरण को अच्छे से जान पाएंगे। अब है साल 2024, इसी साल दुनिया की सबसे फेमस प्राइवेट स्पेस एजेंसी SPACEX पहली बार इंसानों को स्पेस में भेजने के काम को अंजाम देंगी। इस मिशन के पहले चरण में ज़रुरी सामान को ही साल 2024 में भेजे जाने की तैयारी की गई है। इसी मिशन दूसरे चरण में इंसानों को भेजा जायेगा। 

2026 में launch होने वाले Satellite

ये वो साल है जब SpaceX इंसानों को अंतरिक्ष में भेजने के लिए पूर्ण रूप से तैयार है। ये मिशन इंसानी इतिहास में चलने वाला सबसे लंबा मिशन होगा। क्यो की इस मिशन में पूरे एक साल तक अंतरिक्ष यात्रिओ को स्पेस में यहाँ वह ट्रैवल करना पड़ेगा। साल 2027 आते-आते इंसान आसानी से स्पेस में जा पाएंगे। 

2030 में launch होने वाले Satellite

यानी कि हम भविष्य में दस साल आगे आ चुके है। अब तक हम इंसानों ने स्पेस इंडस्ट्री में बोहोत कामयाबी हासिल कर ली होगी। इन दस सालों में दुनिया की स्पेस एजेंसियों का टार्गेट इंसानों को स्पेस में ले जाने का होगा। 

2035 में launch होने वाले Satellite

जब जापान की एक कंपनी OBAYSHI अपना खुद का स्पेस एलिवेटर तैयार कर चुकी होगी। पर इस टेक्नोलॉजी पर रिसर्च जारी है। इसके सूटेबल मटेरियल मौजूद न होने की वजह से इसपे उतना जोर नहीं दिया जा रहा। नासा भी इस चीज को लेकर काफी रिसर्च कर रहा है। अगर हम इस टेक्नोलॉजी को बनाने में कामयाब हो जाते है तो उस ज़माने में स्पेस ट्रैवल एक आम बात होगी। बिलकुल उसी तरह जी तरह हम आज ट्रैवल करते है। 

2050 में launch होने वाले Satellite

साल 2050 आते-आते नासा मार्स मिशन के जरिये मंगल ग्रह पर एक पूरी की पूरी इंसानी बस्ती बसाने में कामयाब होगा। ये सब बाते रिसर्च और फ़्यूचर प्रिडिक्शन का एक हिस्सा है। आने वाले कल में क्या होने वाला है ये तो बस भगवान ही जानते है। लेकिन अगर सब कुछ प्लान के मुताबिक हुवा तो ये सारी चीजें हक़ीक़त में हमको देखने को मिल जाएगी। इस बारे में आपकी क्या राय है क्या हम भविष्य में इतने एडवांस हो जायेंगे? अपनी राय नीचे कमेंट में ज़रूर बताये।

Enjoyed the post! Leave a Reply...