Google My Business के Quality Issues को कैसे Solve करे?

  • Post author:
  • Post last modified:July 14, 2021

पहले मुर्गी आयी या अंडा, इस सवाल का जवाब मिल सकता है लेकिन गूगल Listing के सस्पेंड होने का रीजन मिलना असंभव है। गूगल Listing के सस्पेंड होने का रीजन ढूंढ पाना कितना मुश्किल है ये खुद Google My Business  टीम को नहीं पता होता है। इसलिए उन्होंने एक वर्ड ईजाद किया Quality Issues. चाहे जिस वजह से Listing सस्पेंड हो रीज़न होता है Quality Issues. Google My Business  न हुवा अर्जुन कपूर हो गया हो, चाहे खुश हो, दुखी हो, हस रहा हो या एलियन देख रहा हो लेकिन एक्सप्रेशन एक ही रहता है।

Quality Issues Google My Business Listing का एक तरह से फ्रेंड जोन है जिसमें जो भी बिजनेस फस गया न तो वो इस पार और न वो उस पार। Google My Business  की पॉलिसी अभी उतनी साफ़ नहीं है कि आप अपनी Listing के सारे पॉइंट को देख एक-एक करके चेक कर सके और Quality Issues को अपनी Listing से दूर कर सकें। कई ऐसे मौक होते हैं जब खुद Google My Business Support Executive ने लोगों को गलत Ideas दे दिए। जो कि Google My Business की गाइडलाइन के पूरी तरह से खिलाफ थे।

जब भी कोई अपनी सस्पेंडेड Listing के लिए Re-statement के लिए फॉर्म भरता है। तो Google My Business की तरफ से जो ईमेल आती है उसमें Suspension का जो रीज़न है वो 90% Quality Issues को बताया जाता है। लेकिन Quality Issues कोई एक या दो प्रॉब्लम नहीं है। बल्कि Google My Business की बहुत सारी पॉलिसीज में से किसी को भी violate करने पर जो चालान कटता है उसका रीज़न होता है Quality Issues.

Google My Business के Quality Issues को कैसे सॉल्व करे ? step by step

1) पहली और सबसे बड़ी गलती है Name or Listing Title:

गूगल के हिसाब से आप की Listing का Title या उसका नाम बिजनेस का Real Name होना चाहिए। वो नाम जो या तो Registered हो या फिर जैसा आप अपने signage boards में इस्तेमाल करते हैं। Title में Keyword, Phone Number, City का नाम वगैरा-वगैरा लगाना Google My Business  की पॉलिसी के खिलाफ होता है। लगभग सभी का यह बहाना होता है कि हमारे आसपास की जो बाकी Listing है वह भी ऐसा ही कर रही हैं।

लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है, आज आपकी Listing गई है कल उनकी भी जाएगी। गूगल असली नाम इस्तेमाल करने के लिए क्यों कहता है? इसे बताना बेकार है क्योंकि किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता है। लेकिन आपको उसे क्यों इस्तेमाल करना चाहिए यह बता देते हैं। जब आप अपने बिजनेस के नाम में Keyword या City का नाम लगा देते हैं, तो ऐसे नाम के साथ citation बनाना एक चैलेंज हो जाता है। इस citation में नाम अलग होगा तो बिजनेस की आईडेंटिटी सारे प्लेटफार्म पर मैच नहीं करेगी और आप परेशान होंगे कि मेरी Listing की रैंक Improve नहीं हो रही है।

Read also: DataLife Engine (DLE) क्या है? | What is DataLife Engine (DLE)?

जब भी गूगल आपकी Listing सस्पेंड करेगा और आप नाम को ठीक करेंगे उसके बाद फिर पहले की सारी citation आप ठीक नहीं कर पाएंगे वह बेकार हो जाएगी। इसलिए सही ऑप्शन यही है कि अपनी Listing के नाम में ही Keyword या City का नाम ना इस्तेमाल करें। वही नाम इस्तेमाल करे जो आपके बिज़नेस का Registered नाम है या आपके signage boards में है। 

एक और खास बात गूगल जब भी आपके बिजनेस के नाम का Proof मांगेगा तो आपको अपनी बिजनेस लोकेशन पर लगे हुए signage boards की फोटो भेजनी होगी और यह फोटो बिल्डिंग के साथ होनी चाहिए। ऐसा नहीं होना चाहिए कि सिर्फ signage boards का क्लोजअप आपने ले लिया और उसे भेज दिया। सिर्फ परमानेंट signage ही चलेगा टेंपरेरी फ्लेक्स बोर्ड या पोस्टर नहीं होने चाहिए।

Read also: राधाकिशन दमानी सफलता की कहानी | Radhakishan Damani Success Story

2) Address: 

Google My Business का आधार है Address, मतलब Base है। सबसे ज्यादा Suspension होते हैं आपके Address के गलत या फेक होने पर, अधूरा होने पर या मैच न होने पर। अगर एक ही Address पर एक से ज्यादा Listings बनी हुई है तो आपकी Listing सस्पेंड हो जाएगी। Google My Business ‘Google Maps’ का ही एक पार्ट है। मैप का सबसे बेसिक एलिमेंट क्या होता है Address, अगर आपका Address गलत है तो कोई आपके Address को सर्च करके वहां तक नहीं पहुंच सकता है। तो आपकी Listing सस्पेंड होगी ही।

अगर आप जिस Address पर अपना बिजनेस शुरू करते हैं वहां पहले से ही कोई बिजनेस Listing होती है। आप से पहले कोई और बिजनेस वहां उस Address पर रहा हो। उन्होंने अपने शिफ्ट होने से पहले अपनी Listing शिफ्ट नहीं की हो तो भी आपकी Listing सस्पेंड हो सकती है। आपको भी Quality Issues का बहाना दिया जाएगा। अगर आपका बिजनेस किसी नई लोकेशन पर हैं, अभी-अभी शुरू हुआ है और अगर आपकी Listing सस्पेंड हो जाती है।

तो अपने Address को गूगल पर सर्च करिए और देखिये कही कोई ओर बिज़नेस उस Address Listing में तो नहीं दिखाई दे रहा है। अगर दिखाई देता है तो आपको Google My Business टीम को Contact करना होगा, वो आपके बिज़नेस का उस Address पर होने का Proof लेंगे और फिर आपकी Listing वेरीफाई हो जाएगी। 

3) Phone Number: 

एक छोटी सी गलती की वजह से ये Listing को सस्पेंड कर देता है। आपको बता दे एक Phone Number एक ही Listing को लिंक किया जा सकता है। लेकिन काफी सारे लोग है जिनके 10-12 स्टोर है, उन्हें मैनेज तो स्टाफ करता है। लेकिन वो लीडस् को एक ही phone number से मैनेज करना चाहते हैं। इसलिए सभी Listing पर एक ही फोन नंबर इस्तेमाल कर लेते हैं। ऐसे में सभी Listing एक साथ स्वाहा हो जाएगी या एक-एक करके हो जाएगी।

Read also: How To Eliminate Render Blocking Resources In Hindi | WordPress Speed Tips

आपके प्लान में कोई बुराई नहीं है। सभी पॉलिसी को आप सही से फॉलो कर रहे हैं। लेकिन आप एक ही फोन नंबर से अपने सारे स्टोर को मैनेज करना चाहते हैं। प्लान बिलकुल सही है लेकिन प्रॉब्लम ये है की गूगल को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। उनकी पॉलिसी है कि एक फोन नंबर आप एक ही Listing में इस्तेमाल कर सकते हैं। तो आपको इसी को फॉलो करना पड़ेगा।

4) Category: 

Google My Business में category के बेस पर Suspension काफ़ी कम होते है। लेकिन फिर भी थोड़ी सावधानी जरुरी है। Google My Business में एक प्राइमरी category होती है और 9 subcategories होती है। इसका मतलब है आप total 10 categories को इस्तेमाल कर सकते है। लेकिन जो subcategories है वो आपकी primary categories से related होनी चाहिए। जैसे अगर आपकी Listing है हॉस्पिटल के बारे में तो आप subcategories में डॉक्टर को तो इस्तेमाल कर सकते है लेकिन हलवाई को इस्तेमाल नहीं कर सकते। 

5) Service Area:

Google My Business Listing में Address उन Listing का दिखाई देता है जहा पर क्लाइंट visit कर सकता है। लेकिन जो बिज़नेस क्लाइंट की लोकेशन पर जा कर Service देते है उनका Address पब्लिक के लिए available नहीं होता है। बल्कि उन्हें Service Area इस्तेमाल करना होता है। अगर आपकी Listing में Address visible है तो Service Area को इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। अगर आप ये कहते है की आप अपनी लोकेशन पर भी Service देते है और क्लाइंट के लोकेशन पर भी जाते है। तो आपको कंपनी के vehicle की details देनी होगी, जो भी Car, Bike आप इस्तेमाल करते है उस पर कंपनी का लोगो होना चाहिए। इसलिए आसान तरीका ये है की या तो आप अपने बिज़नेस को फिजिकल लोकेशन पर रखिए या Service Area स्टाइल में रखिए। 

Service Area इस्तेमाल करने पर भी आपको कुछ रूल्स फॉलो करने होते है। 

गूगल की पॉलिसी के हिसाब से आप सिर्फ उतने ही area में service दे सकते है जहां 2 घंटे के अंदर पहुंचा जा सकता है। आप मेट्रो सिटीज में 40-45 km और छोटे शहरों में 50-60 km तक का area ही अपने Service Area में लिस्ट कर सकते है। 

Read also: Black Hat SEO क्या होता है? | What is Black Hat SEO?

6) Website: 

वेबसाइट भी एक काफी बड़ा रीजन है Listing के सस्पेंड होने का। मतलब आपकी वेबसाइट अभी लॉन्च नहीं हुई है, publicly available नहीं है। तो आप उसकी लिंक को Listing पर add नहीं कर सकते। अगर आपने किसी ऐसे पेज की लिंक Listing में दी है जिस पर visit करने के बाद वो यूजर को किसी दूसरे वेबसाइट पर redirect करती है। तो भी आपकी Listing सस्पेंड हो सकती है। इतना ही नहीं आपको अपनी वेबसाइट के SSL Certificate पर भी ध्यान देना चाहिए। अगर SSL certificate expire हुआ है तो आपकी साइट HTTPS पर run नहीं होगी। आज के समय में वेबसाइट का HTTPS पर run होना जरूरी है। तो इस बात का भी ध्यान आपको रखना चाहिए।

Enjoyed the post! Leave a Reply...