Shared Array Buffer क्या है? | What Is Shared Array Buffer in Hindi

  • Post author:
  • Post last modified:September 4, 2021

SharedArrayBuffer

15 मार्च 2021 को Google Search Console ने कुछ Webmasters को New Requirement For Shared Array Buffer Subjects नाम की ईमेल भेजी. जहां अधिकतर लोगों के लिए यह एक नया शब्द था. सिर्फ SEO’s ही नहीं बल्कि जूनियर डेवलपर के लिए भी यह एक नया टॉपिक है.

SEO कम्युनिटी में इस ईमेल के लिए इतना कंफ्यूजन हुआ कि गूगल ने न सिर्फ ईमेल को रोका बल्कि Clarification भी Release किया. क्या आप जानते हैं कि वेबसाइट में यह इशू कैसे बनता है और आपको अपनी वेबसाइट में इसे कैसे सुलझाना चाहिए?

अगर आपको अपनी वेबसाइट के लिए गूगल से ऐसी ईमेल मिली है तो हो सकता है कि मई 2021 से आपकी वेबसाइट के कुछ फंक्शन या फीचर काम ना करें. इसलिए इस इशू को समझना जरूरी है. हो सकता है आपको कोई ऐसा क्लाइंट मिले जिनकी वेबसाइट के लिए गूगल से ऐसा ईमेल आ चूका हो. या आप ही ने कोई ऐसी वेबसाइट बनाई है जिसके लिए आपको गूगल से ऐसा ईमेल आ जाए.

अगर आप Technical बैकग्राउंड से नहीं है तो हो सकता है कि ये सब बातें शुरुआत में थोड़ा बाउंस कर जाए लेकिन बैकग्राउंड के बाद हम एक्शन प्लान पर भी बात करेंगे. वेबसाइट और Google Search Console की ईमेल पर थोड़ी देर बाद आते हैं सबसे पहले देखते हैं कि आखिर यह मामला क्या है.

तो चाहे डेस्कटॉप हो या लैपटॉप हो या स्मार्टफोन हर तरह की इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जिसमें इंटरनेट को यूज किया जा सकता है, उसमें एक चीज कॉमन होती है. वो चीज होती है Processor जो किसी Program को रन करने के लिए टास्क को पूरा करने के लिए Processing करता है.

Shared Array Buffer क्या है?

Shared Array Buffers (SharedArrayBuffer) एक तरह के Object होते है जो Generic, Fixed-length Of Raw Binary Data Buffer को Represent करने के लिए इस्तेमाल किए जाते है. Computer Processor किसी Task को करते वक़्त मेमोरी को Temporary सेव करने के लिए एक तरह के Object Create करते है. इन Object को Shared Array Buffers कहा जाता है.

SharedArrayBuffers मे ऐसा डाटा स्टोर कर रखा जाता है जिसे दूसरे टास्क के साथ शेयर किया जा सकता है. इससे Processor का टाइम बचता है. क्योंकि कॉमन एलिमेंट को उन्हें बार-बार बनाकर स्टोर नहीं करना पड़ता है.

कई साल पहले कुछ कंप्यूटर साइंटिस्ट ने देखा की CPU’s में एक कमी होती है। जिसके चलते प्रोग्राम किसी और प्रोग्राम के Shared Array Buffer को यूज कर सकते हैं। इस कमी को नाम दिया गया स्पेक्टर। यह एक गंभीर Vulnerability थी।

क्योंकि Example के लिए मान लो आपने फोन के ब्राउज़र में एक टैब पर अपने नेट बैंकिंग अकाउंट में लॉगिन कर रखा है और दूसरी टैब में कोई ऐसी वेबसाइट आप यूज कर रहे हैं जिसमें की स्पेक्टर नाम की Vulnerability को यूज किया जा रहा है। तो वो अपने टैब से जम्प करके आपकी नेट बैंकिंग डिटेल को चुरा सकता है। यह एक बेहद आसान और सिंपल Explanation है Shared Array Buffer के Disadvantage का। 

स्पेक्टर Vulnerability और भी ज्यादा डेंजरस हो जाती है मॉडर्न वेबसाइट में। क्योंकि एक वेबसाइट में आजकल काफी सारे अलग-अलग रिसोर्सेज को यूज किया जाता है। Font गूगल से आ रहे हैं, थीम के CSS कही ओर से लोड हो रहे है, इमेजेस CDN से लोड हो रही हैं।

अपना सिर्फ डोमेन नेम होता है और हो सकता है होस्टिंग भी होती हो अगर आप Blogger ना यूज कर रहे हो। ऐसे में सोचिए कि अगर कोई फ्री थीम में JavaScript फाइल में ऐसा कोई प्रोग्राम पड़ा हुआ है जो स्पेक्टर नाम की Vulnerability को यूज करता है। वो तो आपके पेमेंट प्रोसेसर के डाटा को उड़ा ले जाएगा।

इसके कमी का फायदा हैकर ना उठा सके इसलिए वेब ब्राउज़र ने Shared Array Buffer को वेबसाइट के लिए Disable कर रखा था। लेकिन अभी मई 2021 से Chrome Shared Array Buffer को कुछ कंडीशन के साथ Enable करने जा रहा है। Firefox ने पहले से ही इसे Enable कर रखा है। Chrome कि कंडीशन यह है कि सिर्फ एक ही डोमेन वाली फाइल्स को Shared Array Buffer को यूज करने की परमिशन होगी। 

अगर आपको Google से ऐसी ईमेल मिलती है तो क्या करना चाहिए? 

Google से ऐसी ईमेल मिलने का मतलब है की आपकी वेबसाइट में कही कोई ऐसा Element यूज हो रहा है जो Shared Array Buffer को यूज कर रहा है। वो कोई Asset हो सकता है, कोई थीम हो सकती है, कोई Element हो सकता है या कोई Plugin भी हो सकता है। 

आपको अपनी वेबसाइट को चेक करना होगा और पता लगाना होगा कि वह कौनसा Plugin या Asset है जो Shared Array Buffer को यूज कर रहा है। ऐसा जो कुछ भी आप यूज कर रहे है आपको उसे हटाना होगा या उस प्रोडक्ट वालो को Contact करके बताना होगा। उन्हें नींद से जगाना होगा और रिक्वेस्ट करनी होगी कि भाई अपने Asset में Cross-origin Isolation को Enable करें। तभी हम तुम्हारा यह Asset यूज कर पाएंगे। तब तक आप उस Asset को अपनी वेबसाइट में यूज मत करना।

Cross-origin Isolation को कैसे Enable करें?

Cross-origin Isolation को कैसे Enable करना है यह आपको जानने की जरूरत नहीं है। लेकिन अपनी वेबसाइट में Shared Array Buffer को यूज करने वाले Asset को कैसे ढूंढना है? यह कहां पर होता है? क्यों यह Error जनरेट हो रही है। ये सब आपको पता होना चाहिए। 

Shared Array Buffer कहां यूज हो रहा है कैसे देखे?

इसका तरीका बेहद आसान है। आपको अपनी वेबसाइट को Chrome ब्राउजर में ओपन करना है और फिर F12 बटन को प्रेस करके Chrome Development पैनल को ओपन करना होगा (या Right क्लिक कर Insepect पर क्लिक करके भी आप देख सकते है)। इसमें आपको अपने Console में जाना होगा। इसको ओपन करे और फिर इसमें आपको निचे दी गई इमेज की तरह का एक वार्निंग या Notification मिलेगी। हो सकता है थोड़ी लंबी लिस्ट हो लेकिन आपको ढूंढ़ना पड़ेगा। 

इमेज में जी Yellow कलर में हाईलाइट किया है कुछ इस तरह का error आपको नजर आएगा।

Shared Array Buffer क्या है

यहाँ आप उस Error को देख सकते है और उसके लाइन नंबर को भी आप मार्क किये हुए लिंक से चेक कर सकते है। आप इसे चेक कर उसे हटा सकते है और इस Error से मुक्ति पा सकते। 

Enjoyed the post! Leave a Reply...