Disruptive Technology क्या है? With Examples In Hindi

  • Post author:
  • Post last modified:October 4, 2021

Disruptive Technology एक ऐसा इनोवेशन है जो कि बोहोत बड़े स्केल पर कंजूमर, बिजनेस और इंडस्ट्री के ऑपरेशन को इफेक्ट करता है। एक बिज़नेस थ्योरी में Disruptive Technology एक ऐसी टेक्नोलॉजी है जो पहले से establish मार्किट को replace कर देती है नए मार्किट वैल्यू से। जैसे पहले हमें कुछ पढ़ना या सीखना होता था तो हम लाइब्रेरी जाते थे लेकिन आज कल सब हमारे मोबाइल फ़ोन में ही है तो कही जाने की जरुरत नहीं है। उस पहली टेक्नोलॉजी को या मार्किट को replace कर दिया नए मार्किट वैल्यू के साथ। इसके कुछ और भी examples है उन्हें हम आगे देखते है। 

Example 1.

जैसे पहले के ज़माने में जब मे म्यूजिक कंसर्ट होते थे जहां पर सिंगर आते थे और गाते थे और पब्लिक इकट्ठा होकर गाने को सुनने आती थी। आज भी कंसर्ट्स होते है पर पहले के जमाने कंसर्ट्स ही होते थे। इस मेथड को पूरी तरीके से Disrupt किया रेडियो टेक्नोलॉजी ने।

मतलब रेडिओ आने के बाद सिंगर्स रेडियो जॉकी के स्टेशंस में जाकर वहां पर गाते थे और वो गाना सीधे कंजूमर के घर तक पहुंच जाता था। अब यहाँ हम ये कह सकते है की रेडिओ ने जो पुराणी मेथड हुआ करती थी उसे Disrupt कर दिया या replace कर दिया। 

Example 2.

Barter System इसके बारे में तो आपने सुना ही होगा। इसमें होता ये था राजू शाम को एक चीज देता था और शाम उसमे बदले में राजू को कोई दूसरी चीज देता था। जैसे राजू के पास चावल थे लेकिन दाल नहीं थी, वही शाम के पास दाल तो थी लेकिन चावल नहीं थी। ऐसे में राजू के पास जो भी है वो शाम को दे देगा और शाम के पास जो भी है वो राजू को दे देगा। इसी सिस्टम को barter system कहा जाता था। 

लेकिन इसके बाद invention हुआ करेंसी का जिसने पुराने सिस्टम को Disrupt कर दिया replace कर दिया। 

Example 3.

आपको तो पता ही होगा की पहले के ज़माने में जब बिजली नहीं हुआ करती थी तो लोग कैंडल्स और लालटेन का इस्तेमाल किया करते थे। लेकिन जब एडिसन ने लाइट बल्ब का invention किया तो उसने पूरी तरह से कैंडल्स और लालटेन को Disrupt कर दिया।

अभी हम इलेक्ट्रिसिटी को हलके में लेते है लेकिन आज से 200-400 साल पहले ये सब नहीं हुआ करता था। आज हम बस एक बटन को दबा कर पुरे रूम को या घर को रौशनी से भर देते है, लेकिन पहले के समय में ऐसा नहीं था। 

न्यूटन ने जितने भी theories दी वो सब उन्होंने कैंडल्स में लालटेन में ही दी है। अगर तब के समय में लाइट होती तो हो सकता हमारे सिलेबस में और भी ज्यादा theories होती, हमारा सिलेबस और भी ज्यादा बढ़ जाता। 

जब इलेक्ट्रिसिटी को खोजा गया तो जो भी लोग और बिजनेसमैन थे जो कैंडल्स और लालटेन को बेचा करते थे इनके बिज़नेस पर भी काफी बड़ा इम्पैक्ट हुआ। उनके बिज़नेस को बुरी तरह से disrupt कर दिया इलेक्ट्रिसिटी ने। 

Example 4.

अभी से कुछ समय पहले तक हम पूरी तरह से ऑफलाइन मार्किट पर depend थे। हमें शॉपिंग करनी होती थी तो हम शॉपिंग मॉल या शॉपिंग सेंटर जाते थे। खाना खाने जाना हो तो रेस्टोरेंट्स में जाते थे।

लेकिन कोविड के बाद से और जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी बढ़ती गई हम पूरी तरह से डिपेंडेंट हो गए ऑनलाइन सर्विसेज पर। आज के समय में हमें शॉपिंग करनी हो तो हम शॉपिंग मॉल की जगह e-commerce प्लेटफार्म पर जाते है। अगर हमें खाना खाना हो तो हम जोमाटो या स्विग्गी से खाना घर मंगाते है। 

Enjoyed the post! Leave a Reply...