क्या ब्लॉग्गिंग Dead हो चुकी है 2021?

  • Post author:
  • Post last modified:October 28, 2021

काफी समय से एक टॉपिक YouTube और गूगल पर काफी सर्च किया जा रहा है की क्या ब्लॉग्गिंग सच में Dead हो चुकी है? पिछले एक या दो साल से लोगो को यह लगने लगा है की ब्लॉग्गिंग Dead हो चुकी है। लेकिन इसके पीछे का कारण कुछ अलग ही है। ब्लॉगिंग को dead इसलिए भी कहा जा रहा है क्योंकि YouTube पर बोहोत ज्यादा लोगो ने videos बनाए है जिसमे उन्होंने ब्लॉगिंग को dead बताया है।

सबसे पहले तो आपको एक बात समझ लेनी चाहिए की YouTube एक ऐसा platform है जहा हमे सही और गलत दोनों चीजें देखने को मिलती है। कुछ लोग दूसरों के trending topics को कॉपी कर video बनाते है फिर चाहे वो सच हो या झूठ कोई फर्क नहीं पड़ता बस हमारा video trend होना चाहिए। इन सब के बीच बेचारे beginner फस जाते है और झूठी बातों को सच मान लेते है।

कुछ लोग इसलिए भी ब्लॉगिंग को dead कहते है क्योंकि उन्हे जो पहले मिलता था अब मिल नहीं रहा है। मिलेगा भी कैसे गूगल काफी बदल चुका है। गूगल अब वेबसाइट के कंटेंट को पहले की तरह नहीं देखता और ना ही वेबसाइट को पहले की तरह ट्रीट करता है। आज के समय में गूगल सिर्फ उन्ही वेबसाइट को महत्व देता है जो उनके बनाए नियमों को अपना कर चल रहे होते है।

काफी समय पहले लोग कॉपी, स्पिन और पता नही क्या क्या पैंतरे आजमा कर अपने ब्लॉग को रैंक करवा लेते थे। लेकिन आज वह सब नही चलता, अगर कोई ऐसा करता भी है तो गूगल उन्हें रैंक से बाहर निकाल देता है।

इसलिए पहले यह सीखे की गूगल कैसे काम करता है? यह पता करने के लिए सबसे पहले हमें गूगल के कुछ algorithm के बारे में समझना होगा, जैसे Bert Algorithm, Smith Algorithm और भी कुछ Algorithms है जिसके बारे में हमें समझना होगा। 

तो चलो बढ़ते है हमारे टॉपिक की तरफ,

दोस्तों काफी लोगों ने YouTube पर वीडियो बनाए है और कहा है की लोग आज कल वीडियो को ब्लॉग से ज्यादा पसंद करते है। क्या यह सच है? आगे जानेंगे, जो लोग यह बात कह रहे है उनका कोई ब्लॉग है ही नहीं, वो तो बस उसने वीडियो बनाया तो मै भी बना देता हूं और उसने क्या कहा है मै भी थोड़ा बहुत चेंज कर यही कह देता हूं बस यही चल रहा है। काफी लोग तो पुराणी रटी रटाई बातों को ही दोहराते रहते है। 

क्या लोग वीडियो को ब्लॉग से ज्यादा पसंद कर रहे है?

जवाब है हां, आज लोग वीडियो को देखना पसंद करते है और सिर्फ YouTube पर ही नहीं सभी सोशल मीडिया पर लोग अलग-अलग तरह के कंटेंट को देखना पसंद करते है। काफी लोग तो कुछ खरीदने से पहले वीडियो को देखना पसंद करते है। लेकिन सवाल यह नहीं है की ब्लॉग्गिंग dead हो चुकी है या नहीं बल्कि सवाल यह है की आपको क्यों लगता है की ब्लॉग्गिंग dead हो चुकी है?

दोस्तों एक बार एक टीचर अपने students की परीक्षा लेता है, जब students exam पेपर देखते है तो उसमे कुछ भी लिखा नहीं होता। सिर्फ पेपर के बिच में एक Dot होता है, students सोच में पड़ जाते है की यह कैसी परीक्षा है जिसमे सवाल ही नहीं है। टीचर students को हैरान देख कर कहता है की आपको पेपर में जो भी दीखता है उसके बारे में लिखो।

Students को जब कुछ सूझता नहीं तो वह अपने अपने हिसाब से जवाब लिखने लगते है। कुछ students उस dot के कलर के बारे में लिखने लगते है, कुछ उसकी पोजीशन के बारे में लिखने लगते है तो कुछ उसकी साइज के बारे में लिखते है। 

गूगल कमाई कैसे करता है?

Finshots के एक रिपोर्ट के हिसाब से गूगल का 2019 का Revenue $162 Billion था। जिसमे से YouTube का सिर्फ 9% ही था और 61% गूगल के अपने प्रॉपर्टीज का था। जिसमे सबसे ज्यादा गूगल सर्च के जरिये गूगल को मिला था। Statista की एक रिपोर्ट के हिसाब से 2020 में गूगल का Revenue बढ़ कर $181 Billion हो गया है। इतना ही नहीं CNBC की एक रिपोर्ट के हिसाब से पीछे सिर्फ 3 महीनो में गूगल का Revenue लगभग 34% से बढ़ गया है। मतलब गूगल का जनवरी 2021 से लेकर मार्च 2021 तक का ही Revenue $55.31 billion है। 

इसमें से Advertisement का revenue $44 billion है और इसमें से YouTube का revenue सिर्फ $6 billion है। इसका मतलब है की अभी भी गूगल सर्च के revenue का बहुत बड़ा कंट्रीब्यूशन है और यह लगातार बढ़ता ही जा रहा है। 

  • google kitna paisa kamata hai? how much google earn

गूगल में हर सेकंड कितने सर्च होते है?

गूगल में हर सेकंड 75000 से भी ज्यादा सर्च होती है, मतलब 580 करोड़ सर्च सिर्फ एक दिन में किये जाते है। जब गूगल में कोई सर्च करता है तो लोग किसी न किसी वेबसाइट को visit करते है और हर दिन न जाने कितने billion searches किसी न किसी वेबसाइट पर लैंड करती है। इतना बड़ा मार्किट कैप्चर है की इस पुरे मार्किट के सिर्फ 1 सेकंड के सर्च भी आप अपने ब्लॉग पर लाने में कामयाब होते है तो आप काफी अच्छी कमाई कर सकते है। 

अब वापस आते है हमारी उस स्टोरी पर, सभी students ने अपने जवाब लिखने के बाद जब टीचर ने सभी के जवाब को पढ़ा तो उसने जो कहा वो काफी अमेजिंग था। टीचर ने कहा की आप उस एक छोटे से dot को ही क्यों देखते रह गए क्या आपको इतना बड़ा सफ़ेद पेपर दिखाई नहीं दिया? हम भी बस यही करते है, हम भी इतने बड़े पेपर में सिर्फ उस छोटे से dot को ही देखते है और अंदाजा लगाना शुरू कर देते है। हम हमेशा नेगेटिव चीजों को सबसे पहले देखते है, लोग यह नहीं सोचते कि हमारे पास क्या है? हम क्या कर सकते है? बल्कि वह यह सोचते है की हमारे पास क्या नहीं है?

मुझे इस बात से फर्क नहीं पड़ता की लोग वीडियो को ज्यादा पसंद करते है बल्कि मुझे यह देखना है की कितने लोग वेबसाइट कंटेंट पढ़ना पसंद करते है। ब्लॉग्गिंग में कितना पोटेंशियल है यह तो हम आपको बता चुके है। हम YouTube को कम प्रायोरिटी दे रहे है ऐसा बिलकुल भी नहीं है, लेकिन अगर आप ब्लॉग्गिंग करना चाहते है तो आपको सिर्फ यह देखना है की ब्लॉग्गिंग में कितना फायदा है। 

अगर आप अपना ब्लॉग शुरू करने की सोच रहे है तो आपको सबसे पहले यह समझना चाहिए की गूगल कैसे काम करता है। गूगल के algorithm जैसे की, Smith Algorithm, Bert Algorithm और भी कुछ दूसरे Algorithms है इस सभी के बारे में आपको पता करना चाहिए। गूगल के यह algorithms गूगल के Featured Snippets पर काफी असर डालते है। अगर आप सभी जानकारी को लेकर इन्हे समझ कर ब्लॉग्गिंग की जर्नी को शुरू करते है तो आप सफल जरूर होंगे, बस आपको मेहनत करनी होगी और सबसे बड़ी बात पेशेंस रखना होगा। 

Enjoyed the post! Leave a Reply...